SAR Value क्या है इसे कैसे Check करे?

SAR Value क्या है इसे कैसे Check करे?

क्या आपको पता है की SAR Value क्या है (What is SAR Value in Hindi)? जैसा कि आप सभी जानते हैं कि विश्व भर में मोबाइल का चलन कितनी तेजी से बढ़ता जा रहा है लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि मोबाइल का उपयोग करना कितना सुरक्षित है अलग-अलग जगहों पर सेल्युलर नेटवर्क की भरमार होती जा रही है जिसके कारण स्मार्टफोन में और भी तेजी से वृद्धि हो रही है और इसके साथ ही साथ मोबाइल से निकलने वाले रेडिएशन की वजह से होने वाले नुकसान की चिंता भी बढ़ती जा रही है

ऐसे में SAR Value (Specific Absorption Rate) बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है जिसको हमें समझने की बहुत ही जरूरत है। इस पोस्ट में हम यही जानेंगे कि साल भर ली क्या है और कितनी होनी चाहिए इसके फायदे और नुकसान क्या क्या है इन सभी के बारे में आज हम जानेंगे।

SAR Value क्या है?(What is SAR Value in Hindi)

असल में SAR Value एक मात्रा ही होती है जिससे मापा जा सकता है कि मोबाइल फोन के रेडिएशन से आपके शरीर में कितनी अधिक रेडियो फ्रीक्वेंसी अब्जॉर्ब हो रही है यह specific अवशोषण दर के रूप में मापी जाती है और आमतौर पर वॉट्स प्रति किलोग्राम (W/kg) के रुप में व्यक्त की जाती है। SAR Value के अनुसार, आपके फ़ोन के उपयोग से शरीर को कितने दिनों में कितनी रेडिएशन का संचार होता है, यह निर्धारित होता है।

SAR Value Full Form

“SAR Value का फुल फार्म (Specific Absorption Rate) Value होता है”

SAR Value का महत्व

SAR Value का मुख्य उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि व्यक्ति अधिक रेडिएशन के कारण नुकसान नहीं उठा रहा है। यह विश्लेषण शरीर के विभिन्न भागों में रेडिएशन के अब्जॉर्ब के स्तर को मापने में मदद करता है और यह सुनिश्चित करने में मदद करता है कि आपके फ़ोन का उपयोग करने से कितना रेडिएशन आपके शरीर में अब्जॉर्ब हो रहा है।

SAR Value कैसे मापी जाती है?

SAR Value को जांचने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करना होगा :-

डायल पैड के द्वारा

शायद आप सभी को पता हो कि हर मोबाइल फोन में specific SAR Value होता है पर ज्यादातर लोगों को शायद नहीं पता होगा कि SAR Value कैसे चेक करते हैं हर मोबाइल फोन में SAR Value चेक करने की अलग-अलग प्रक्रिया होती है पर आमतौर पर मोबाइल की SAR Value चेक करने का सबसे आसान तरीका है अपने मोबाइल के डायल पैड में *#07# डायल करें इसके बाद आपको आपके स्क्रीन में मोबाइल की SAR Value दिख जाएगी।

SAR Value क्या है इसे कैसे Check करे?

फ़ोन के सेटिंग्स में जाएं

सबसे पहले, आपको अपने स्मार्टफ़ोन की सेटिंग्स में जाना होगा। आपके मोबाइल फोन की सेटिंग में सार ऑप्शन दिखेगा इसे क्लिक करके आप अपने मोबाइल के सारे वैली देख सकते हैं

मोबाइल फोन के बॉक्स में

कुछ देशों में, आपको फ़ोन की SAR Value को स्मार्टफ़ोन की बॉक्स पर देख सकते हैं। यह आमतौर पर या तो स्मार्टफ़ोन के साथ दिया जाता है या फिर ऑनलाइन रिसोर्सों में उपलब्ध होता है।

ऑनलाइन चेक करें

आप अपने फ़ोन के मॉडल नंबर के साथ ऑनलाइन चेक कर सकते हैं और उसकी SAR Value जान सकते हैं।

ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं

हर मोबाइल फोन मैन्युफैक्चर कंपनी की एक ऑफिशियल वेबसाइट जरूर होती है अपने मोबाइल के मॉडल नंबर के मुताबिक उस मोबाइल की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर भी आप SAR Value की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
ध्यान दें :- SAR Value आपके फ़ोन के मॉडल और मैन्युफैक्चर के आधार पर अलग-अलग हो सकती है, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने फ़ोन की specific SAR Value की जाँच करें।

रेडिएशन कितना खतरनाक हो सकता है शरीर के लिए

हमें से ज्यादातर मोबाइल फोन को यूज़ तो करते हैं पर गलत तरीके से यूज करते हैं जैसे मोबाइल फोन को सिर के नीचे रख कर सो जाना, बहुत ज्यादा देर तक मोबाइल को कान पर लगाकर ही बात करना ऐसा करने से जो रेडिएशन निकल रहा होता है वो हमारे शरीर को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाता है
मोबाइल फोन का रेडिएशन सबसे ज्यादा खतरनाक बच्चों, बूढ़ों और गर्भवती महिलाओं को हो सकता है क्योंकि बच्चों बूढ़ों और गर्भवती महिलाओं में रेडिएशन बहुत तेजी से अब्जॉर्ब होता है रेडिएशन से बचने के लिए हमें हेडफोन का इस्तेमाल करना चाहिए या फिर बहुत ज्यादा देर तक मोबाइल पर बात नहीं करनी चाहिए।

 

रेडियो फ्रीक्वेंसी रेडिएशन का शरीर पर क्या बुरा प्रभाव पड़ता है

जैसा कि हम जान चुके हैं कि रेडियो फ्रिकवेंसी रेडिएशन हमारे शरीर के लिए बहुत ही नुकसान दे है पर यह हमारे शरीर में किस तरह से नुकसान पहुंचा सकते हैं चलिए इसके बारे में जानते हैं।
  • अगर हम बहुत देर तक मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हैं तो उससे बहुत तेजी से रेडिएशंस रिड्यूस होती है जो हमारे शरीर के टिशू ब्रेकडाउन कर सकती है और DNA को भी बहुत भारी नुकसान पहुंचा सकती है।
  • विशेषज्ञों का मानना है कि अगर बहुत ज्यादा रेडियो फ्रीक्वेंसी रेडिएशन हमारे शरीर के अंदर अब्जॉर्ब की जाती है तो ब्रेन ट्यूमर और कैंसर का भी कारण बन सकता है।
  • मोबाइल से निकलने वाली रेडिएशन की वजह से अगर बॉडी में नुकसान पहुंचता है तो कुछ छोटे-मोटे टर्म जैसे शरीर में सिर दर्द, सर में झनझनाहट, लगातार थकान महसूस होना, चक्कर आना, डिप्रेशन, नींद, आंख का लाल हो जाना, काम में ध्यान ना लगना कुछ इस तरीके के सिम्टम्स हमें दिखाने लगते हैं
  • अधिक रेडिएशंस की वजह से हमारा इम्यून सिस्टम भी खराब हो सकता है

मोबाइल फोन रेडिएशन से कैसे बचें

मोबाइल फोन रेडिएशन से बचने के कुछ उपाय हैं जिसे आप अपना कर इन रेडिएशन के नुकसान से बच सकते हैं

  • मोबाइल फोन यूज करते वक्त जितना हो सके स्पीकर में बात करने की कोशिश करें इससे मोबाइल रेडिएशन बहुत कम मात्रा में आपके शरीर के अंदर अब्जॉर्ब होगी।
  • मोबाइल फोन को लंबे समय तक कान में लगाकर बात ना करें हो सके तो वायर एयर फोन का इस्तेमाल करें।
  • मोबाइल फोन का नेटवर्क सिगनल अगर बहुत कम हो तो उसे वक्त मोबाइल फोन में बात करने से बचें।
  • लिफ्ट ट्रेन और प्लेन में मोबाइल फोन का उपयोग करने से बचें।

निष्कर्ष

इस पोस्ट में हमने जाना कि SAR Value (What is SAR Value in Hindi) की जानकारी होना बहुत ही इंपॉर्टेंट है क्योंकि है मोबाइल से निकलने वाले रेडिएशन जो आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकते हैं SAR Value के सहायता से हमें माप सकते हैं कि हमारा शरीर कितना रेडिएशन को अब्जॉर्ब कर रहा है SAR Value की जांच करना आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण कदम होता है उम्मीद है यह पोस्ट आपको पसंद आया होगा।

 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *